Kho Gaya Lyrics – Zaeden & Yashraj | Aakash Ravikrishnan

1Shares
Advertisement
Kho Gaya Lyrics

Kho Gaya Lyrics is a new hindi album song sung by Zaeden & Yashraj. Kho Gaya Lyrics is written by Nikita Ahuja, Zaeden and Yashraj and it’s composed by Aakash Ravikrishnan. We are presenting the Lyrics of Kho Gaya song in Hindi and English which is given below.

Kho Gaya Lyrics in English:

Kuch Hi Din Se Hoon
Main Bhi Ginta Din Yaha
Jiase Koi Dunde Bewajaah
Jine Ki Wajaah

Milne Hai Aayi Mujhse Woh Raatein
Mujhse Woh Yaadein Baar Baar
Kyu Door Hai Tu Fir Bhi Yahin Hai
Karta Hoon Intezaar

Advertisement

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Mein Kyun Tanha Ho Gaya
Teri Yaadon Mein, Mein Kyun
Jaane Kyun Main Kho Gaya

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Jaane Do Jo Bhi Hua
Socha Karta Hoon Mein Kyu
Jaane Kyu Mein Kho Gaya

Kaise Abb Kahoon
Tumse Jo Nah Khe Sakha
Mujhko Koi Samjhe Nah Tu Bata
Tu Kya Le Gaya

Milne Hai Aayi Mujhse Woh Raatein
Mujhse Woh Yaadein Baar Baar
Thoda Sa Hi Door Thoda Sa Galat Mein
Aao Nah Ek Baar

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Mein Kyun Tanha Ho Gaya
Teri Yaadon Mein, Mein Kyun
Jaane Kyun Main Kho Gaya

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Jaane Do Jo Bhi Hua
Socha Karta Hoon Mein Kyu
Jaane Kyu Mein Kho Gaya

Jaane Kyun Mein Kho Gaya Hoon
Tujhko Milkar Aankho Mein Thi Baatein
Par Yeah Hot Mere Silkar
Chup! Khatam To Hua Tha
Mile Nah Hum Saalon Mein
Par Jabhi Khoye Yaadon Mein
Tu Dhudle Nah Ganno Mein Sach Kheer
Betege Saal Aur Khadha Mein Stage Pe
Bhai Saare Kare Rage Aur
Nazare Padti Logo Beech Mein
Waha Pe Khadi Akeli Tu Bheed Mein
Sochu Ki Sapna Hai Ya Naseeb Hai
Dil Pe Jo Rehta
Woh Aankho Pe Na Hai Yakeen
Par Khud Ko Puchta Rehta Repeat Pe

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Mein Kyun Tanha Ho Gaya
Teri Yaadon Mein, Mein Kyun
Jaane Kyun Main Kho Gaya

Jaane Yeh Kya Ho Gaya
Jaane Do Jo Bhi Hua
Socha Karta Hoon Mein Kyu
Jaane Kyu Mein Kho Gaya

Kho Gaya Lyrics in Hindi:

कुछ ही दिन से हूँ
मैं भी गिनता दिन यहाँ
जिअसे कोई डुंडे बेवजाह
जीने की वजह

मिलने है आई मुझसे वह रातें
मुझसे वह यादें बार बार
क्यों दूर है तू फिर भी यहीं है
करता हूँ इंतज़ार

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

कैसे अब कहुँ
तुमसे जो नाह खे साखा
मुझको कोई समझे नाह तू बता
तू क्या ले गया

मिलने है आई मुझसे वह रातें
मुझसे वह यादें बार बार
थोड़ा सा ही दूर थोड़ा सा गलत में
आवो नाह एक बार

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

जाने क्यूँ में खो गया हूँ
तुझको मिलकर आँखों में थी बातें
पर येह होत मेरे सीलकर
चुप! ख़तम तो हुआ था
मिले नाह हम सालों में
पर जभी खोये यादों में
तू धुंदले नाह गन्नो में सच खीर
बेतेगे साल और खाधा में स्टेज पे
भाई सारे करे रागे और
नज़ारे पड़ती लोगो बीच में
वह पे कड़ी अकेली तू भीड़ में
सोचु की सपना है या नसीब है
दिल पे जो रहता
वह आँखों पे न है यकीन
पर खुद को पूछता रहता रिपीट पे

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

जाने यह क्या हो गया
में क्यूँ तनहा हो गया
तेरी यादों में, में क्यों
जाने क्यों मैं खो गया

Kho Gaya Song Details:

Song: Kho Gaya
Singer: Zaeden & Yashraj
Music: Aakash Ravikrishnan
Lyrics: Nikita Ahuja, Zaeden and Yashraj
Label: Zaeden

Thanks for reading the full lyrics. If their is any mistake in this lyrics. Then please don’t hesitate to fill the Correction Form. We will definitely fixed it OUT. Your contribution is appreciated

Leave a Comment